ओमिक्रॉन मामलों में बढ़ोत्तरी के कारण अधिकारी इसके प्रसार को लेकर चिंतित हैं। यह संख्या पहले ही 20 को पार कर चुकी है और राजस्थान से सबसे अधिक 9 मामले सामने आए हैं। राज्य ने अंतरराष्ट्रीय और घरेलू यात्रा के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

कोविड टीका लगवाने वाले घरेलू यात्रियों को नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट और क्वारंटाइन होने की आवश्यकता नहीं है 

अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए, यदि कोई यात्री पॉजिटिव पाया जाता है, तो उनके नमूने आगे यह पता लगाने के लिए भेजे जाएंगे कि वह नए वैरिएंट से संक्रमित हैं या नहीं। सभी यात्रियों के लिए थर्मल स्क्रीनिंग और ऑक्सीजन सेचुरेशन टेस्ट (oxygen saturation test) अनिवार्य है।

पूरे राजस्थान में ‘नो मास्क-नो मूवमेंट’ नियम लागू

पूरे राज्य में निगरानी तेज कर दी गई है और ‘नो मास्क, नो मूवमेंट’ का नियम लागू किया गया है। नए वैरिएंट से संक्रमित पाए गए नौ लोगों में से चार एक ही परिवार के थे, और वे दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे। उन्हें राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (आरयूएचएस) में भर्ती कराया गया है। सभी नौ लोगों के नमूने एकत्र किए गए हैं और जीनोम सिक्वेसिंग के लिए जयपुर के सवाई मान सिंह अस्पताल में भेजे गए हैं। जो अन्य पांच उनके परिचित थे, उन्हें होम क्वारंटाइन किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *