इंदौर में विकास को नए आयाम देते हुए, पीथमपुरा में प्रदेश का पहला इकोनॉमी एंड इनोवेशन पार्क बनाया जाएगा। इस पार्क का निमार्ण प्रदेश भर की इंडस्ट्रियल यूनिट से निकलने वाले कचरे से अलग-अलग उत्पाद बनाने के लिए किया जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार, यह पार्क 50 एकड़ पर दो चरण में 300 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा और इसका पहला चरण 153 करोड़ से 18 माह में पूरा होगा।

लोगों के लिए मिलेंगे रोज़गार के अवसर

राज्य के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर इस पार्क को लेकर जानकारी दी कि इससे 450 लोगों को रोजगार भी मिलेगा। रिपोर्ट के अनुसार, यहां 18 तरह के इंडस्ट्रियल कचरे को उपयोग में आने वाले उत्पादों में बदला जाएगा।

 यहां पर एक युनिट में हाईटेक लैब बनाई जाएगी, जो बनने वाले उत्पादों की टेस्टिंग, सर्टिफिकेशन का काम करेगी और एक युनिट में इन्क्यूबेशन सेंटर बनाया जाएगा, जिसमें युवाओं को एक साल की ट्रेनिंग देकर इसी तरह के स्टार्टअप विकसित करने के लिए तैयार किया जाएगा।

 कार्बन न्यूट्रल होगा इनोवेशन पार्क

रिपोर्ट के अनुसार, यह देश का पहला ऐसा इनोवेशन पार्क होगा, जो कार्बन न्यूट्रल होगा। यहां पर कार्बन उत्सर्जित नहीं होगी और इससे कार्बन क्रेडिट भी पैदा होगी, जो एक अलग आय का साधन बनेगा।

यहां सभी तरह की बैटरी का रिसाइकल, सोलर व विंड पैनल वेस्ट का रिसाइकल, इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट जैसे मोबाइल, टीवी, कम्प्यूटर भी रिसाइकल हो सकेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *