मालवा प्लेट्यू के चमत्कारों के साथ इंदौर भरपूर प्राकर्तिक सुंदरता से हर तरफ से सजा हुआ है। शहर के आकर्षक रोमांच के बीच, कालाकुंड वन स्टॉप डेस्टिनेशन है उनके लिए जो एक रोमांचक जंगल कैंप के विचार से आकर्षित हैं। भारतीय मिठाई कलाकंद का जन्मस्थान, कलाकुंड गाँव इंदौर से एक शानदार वीकेंड यात्रा के लिए बेहतरीन है।

जंगल में कैंप करना है मुख्य आकर्षण



निकटवर्ती जंगलों में आयोजित जंगल कैंप कालाकुंड का प्रमुख करिश्मा है। अन्य बातों के अलावा, चोरल नदी के तट पर शांति से भरी एक टहल आपकी आत्मा को शांत कर आपके जोश को बढ़ावा देगी। गाँव के नज़दीक स्थित है शानदार कुशालगढ़ किला है जिसके परिसर में मालवा के शक्तिशाली शासकों का इतिहास समाया हुआ है।

कैंप सुविधाओं के आकर्षणों के बीच, जंगल ट्रैकिंग का अनुभव पर्यटकों को सबसे ज़्यादा आनंदित करता है। विशेष वन्यजीवों को स्पॉट करने से लेकर नदी-पार करने के रोमांच के अनुभव तक आगंतुक को हमेशा के लिए संजो कर रखने के कई क्षणों प्राप्त हो सकते हैं ! अगर आपका दिल प्रकृति की वादियों के बीच नाचना और फिरना चाहता है, तो कलाकुंड निश्चित रूप से सही जगह है।

प्रकृति की बारीकियों के बीच एक दर्शनीय ट्रेन यात्रा



पुराने मीटर गेज ट्रेन लाइन पर चलने वाली हेरिटेज ट्रेन के माध्यम से कालाकुंड का मार्ग गांव के रूप जैसा ही लुभावना है। इस ट्रेन पर चढ़कर जो इंदौर के बीच से रेलवे स्टेशनों से होकर गुजरती है, आप पूरे गाँव की सुंदरता का आनंद ले सकते हैं। 150 साल पहले स्थापित, ट्रेन सेवाओं के ज़रिये पर्यटकों को प्रकर्ति के कई सुरम्य तोहफे देखने को मिलते हैं। रास्ते में, क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी तांत्या मामा को समर्पित मनोरम झोपडी मंदिर और शानदार पातालपानी झरना एक जीवन भर का अनुभव प्रदान करते हैं !

मानव निर्मित आकर्षणों से घिरे हुए आधुनिक समय में मानवीय हस्तक्षेपों के कारण प्राकृतिक स्थानों की कमी हो गयी है। ऐसी परिस्थितियों में, कालाकुंड जैसी जगह को खोज पाना मुश्किल है। इसलिए, यदि आपके दिल में प्रकृति की सबसे सुरम्य रचनाओं के लिए जगह है, तो कलाकुंड की यात्रा आपके लिए निश्चित रूप से यादगार रहेगी।