इंदौर में कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे चरण में तेज़ी लाने के लिए और 44 वर्ष तक के सभी वयस्कों के टीकाकरण करने के लिए 17,000 कोविशील्ड खुराकें आ गई है। रिपोर्ट के अनुसार, टीकाकरण अभियान की व्यापक्ता बढ़ाने के लिए यहां लगभग 30 अतिरिक्त टीकाकरण स्थल स्थापित किए गए थे। अब, इंदौर में 65 टीकाकरण स्थलों पर 18 से 44 वर्ष की आयु के लोगों को टीका लगाया जाएगा।

इंदौर में जल्द से जल्द किया जाएगा सभी व्यस्कों का टीकाकरण


टीके की कमी के चलते इंदौर में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान में बाधा आ रही है। हालांकि यहां तीसरे चरण का टीकाकरण कार्यक्रम 1 मई से शुरू हो गया था लेकिन टीकाकरण स्थलों की पर्याप्त संख्या न होने के कारण स्लॉट की संख्या भी कम थी, जिसके चलते लोगों को टीका लगवाने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था।

हालांकि, इंदौर में कोविशील्ड के आगमन को देखते हुए अब इन समस्यायों का समाधान होने की उम्मीद है। इसके परिणामस्वरूप स्वास्थ्य विभाग ने 18-44 आयु वर्ग के लोगों के लिए इंदौर में 65 टीकाकरण स्थलों पर टीकाकरण शुरू होने के बाद इस अभियान को गति मिलेगी। जिला टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि इस आयु वर्ग में लगभग 15 लाख लोगों को लाभार्थी के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि 17,000 नई खुराकें विभाग को इस लक्ष्य को तेज करने और पूरा करने में मदद करेगी।

अधिकारी ने यह भी बताया कि उन्होंने 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान फिर से शुरू कर दिया है, जिसे पिछले सप्ताह टीके की कमी के बीच निलंबित कर दिया गया था। संसाधनों की कमी के कारण इंदौर में इस श्रेणी के लिए COVAXIN की पहली खुराक उपलब्ध नहीं होगी।