कोरोना संक्रमण के खिलाफ एक मज़बूत लड़ाई लड़ते हुए देश का सबसे स्वच्छ शहर होने के साथ इंदौर, मध्य प्रदेश में टीकाकरण के मामले में भी सबसे आगे है। अभी तक इंदौर शहर में कुल 9,31,921 लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चूका है, और जानकारी के हिसाब से इंदौर में पहली और दूसरी डोज़ दोनों प्राप्त करने वाले सर्वाधिक लोग हैं। इसके अलावा शहर के अधिकारी टीकाकरण अभियान को और विस्तृत करने की कोशिशों में लगे हुए हैं।

शुक्रवार को 937 नए मामले और 1,735 ठीक हुए


लगातार 9 दिनों तक कोरोना मामलों में कमी दर्ज होने के साथ इंदौर के कोरोना आंकड़ें काफी कम हो गए हैं। शुक्रवार 937 नए मामले दर्ज किये गए और 1,735 लोग रिकवर हो गए हैं, जो की नए मामलों की अपेक्षा डबल हैं जिससे शहर में सक्रिय मरीज काफी कम हो गए हैं और आने वाले दिनों में ग्राफ और नीचे जाने की उम्मीद है। दूसरी ओर, गुरुवार को 8 लोगों ने वायरस के कारण दम तोड़ दिया और अकेले मई में मृत्यु दर में 155 की वृद्धि हुई है।

वर्तमान स्थिति को देखते हुए, इंदौर में अधिकारी यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं कि टीकाकरण के दायरे का और हो। हालांकि पर्याप्त स्टॉक की कमी यहां के टीकाकरण अभियान के लिए एक परेशानी है लेकिन अधिकारी इसके लिए भी समाधान खोजने का प्रयास कर रहे हैं।

अपने वर्तमान रिकॉर्ड को ध्यान में रखते हुए, शहर जल्द ही बड़ी संख्या में व्यक्तियों को टीका लगाने की कल्पना करता है। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जितनी जल्दी हर्ड इम्युनिटी का उद्देश्य पूरा हो जाएगा, तीसरी लहर को रोकने की संभावनाएं उतनी ही मजबूत होंगी।