इंदौर के मानपुर शहर में एक अनोखी पहल के तहत, अधिकारियों ने ढ़ोल बजवा कर नागरिकों को कोविड टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अनूठी पहल में उन लोगों के घरों के बाहर ढोल बजाया गया, जिन्होंने अब तक टीके की खुराक नहीं लगवाई है। कथित तौर पर, इस पहल को टीका नहीं लगवाने वाले नागरिकों का प्रोत्साहन बढ़ाने और उनमें जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से शुरू किया गया है।

नागरिकों को सलाह दी गई और टीकाकरण करवाने के लिए प्रोत्साहित किया गया

रिपोर्ट के मुताबिक, एक अधिकारी ने बताया कि ढोल पीटने से नागरिकों को उनके घरों से बाहर निकालने में मदद मिली। एक बार जब वे अपने घरों से बाहर निकले, तो उन्हें टीकाकरण अभियान में भाग लेने के लिए परामर्श दिया गया। 

जहां शहर की आबादी के एक बड़ा हिस्से का टीकाकरण हो चुका है, वहीं कुछ नागरिक अभी भी टीका लगवाने से कतरा रहे हैं। अब, इस नवीनतम गतिविधि के कार्यान्वयन के साथ टीकाकरण कवरेज में वृद्धि होने की उम्मीद है। टीकाकरण की बढ़ी हुई दर की तत्काल आवश्यकता को देखते हुए, इस तरह के कार्यक्रमों के ज़रिए यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि सभी लाभार्थियों को टीके की खुराक प्राप्त हो।

इंदौर में अब तक 1.5 लाख से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हुए!

मध्य प्रदेश में सबसे अधिक प्रभावित जिला होने के कारण, इंदौर में अब तक संक्रमित व्यक्तियों की संख्या सबसे अधिक 1,52,833 है। सोमवार को, इंदौर में 6 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 18 लोग ठीक हुए। वर्तमान में, शहर में 112 सक्रिय रोगी हैं और अब तक 1,390 मौतें दर्ज की गई हैं। इन आंकड़ों को देखते हुए, वर्तमान समय में सभी लोगों का टीकाकरण और भी महत्वपूर्ण हो जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *