इंदौर में ब्लैक फंगस के रोगियों को चिकित्सा राहत मिलने मिलने वाली है। मरीजों के लिए परेशानी बन रहे ब्लैक फंगस के उपचार के लिए 12 हजार 240 इंजेक्शन शुक्रवार को चार्टर्ड विमान से इंदौर पहुंचे। इसमें कुल 34 बॉक्स इंदौर एयरपोर्ट पहुंचे एक बॉक्स में 360 वायल मौजूद है।

जानकारी के अनुसार सुबह सवा 10 बजे दिल्ली से आए विशेष विमान इन इजेक्शनों को लाया गया है। जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है, क्योंकि पिछले कई दिनों से शहर में इस जीवन रक्षक इंजेक्शन की बड़ी किल्लत महसूस की जा रही थी। इन इजेेक्शनों को हिमाचल प्रदेश में बनाया गया है। वहां से इन्हें दिल्ली लाया गया। इसके बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन्हें विमान से इंदौर लाया गया है।

इससे ब्लैक फंगस के मरीजों को काफी राहत हो जाएगी। अधिकारियों ने बताया कि सरकारी और निजी क्षेत्र के स्थानीय अस्पतालों में फिलहाल ब्लैक फंगस के 500 से ज्यादा मरीज भर्ती हैं। इनमें इंदौर समेत राज्य के 16 जिलों के मरीज शामिल हैं, साथ ही इनमें करीब 95 प्रतिशत मरीज ऐसे हैं, जो कोविड-19 के संक्रमण से मुक्त होने के बाद ब्लैक फंगस की जकड़ में आ गए। इंदौर संभाग के आयुक्त पवन कुमार शर्मा ने संवाददाताओं को बताया कि एम्फोटेरिसिन-बी के 12,240 इंजेक्शनों की खेप राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर हिमाचल प्रदेश के बद्दी की एक दवा इकाई से खरीदी गई है। शर्मा ने बताया कि इस खेप को जल्द से जल्द इंदौर लाने के लिए कुछ सरकारी अफसरों को बद्दी भेजा गया था। उन्होंने बताया, “उम्मीद है कि हमें अगले दो-तीन दिन के भीतर एम्फोटेरिसिन-बी के 12,000 इंजेक्शनों की एक और खेप मिल जाएगी।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *