टीकाकरण की सुविधा को सभी नागरिकों तक सामन्य रूप से मुहैया कराने के लिए इंदौर प्रशासन लगातार कार्य कर रहा है। इंदौर में अधिकारियों ने अपाहिज और विकलांग नागरिकों के लिए घर पर टीकाकरण सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है। कथित तौर पर जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि राज्य के सामाजिक न्याय एवं विकलांग जन कल्याण विभाग ने ऐसे 50 से अधिक लोगों की एक लिस्ट तैयार की है। इस लिस्ट में वे लोग शामिल हैं जो विकलांगता या पुरानी स्वास्थ्य समस्याओं के कारण चल नहीं सकते हैं।

सर्जन पहले व्यक्तियों की स्थिति की जांच करेंगे

यह योजना उन लोगों को कवर करेगी जो शारीरिक दुर्बलता, सेरेब्रल पाल्सी, हाइपर-मानसिक चुनौती, मानसिक बीमारी या फिर उनके चलने फिरने में बाधा डालने वाली अन्य समस्याओं से परेशान हैं। उनकी स्थिति को देखते हुए, ऐसे व्यक्तियों को टीकाकरण की विशेष आवश्यकता होती है। इसलिए, उनकी आवश्यकता को पहचानना और इस अभियान को शुरू करना आवश्यक था।

रिपोर्ट के अनुसार, डॉक्टर और सर्जन पहले रोगी की बीमारी की स्थिति का आकलन करेंगे और फिर उन्हें उनके घरों के भीतर टीकाकरण प्रदान किया जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार, ऐसे व्यक्ति के परिजनों या कार्यवाहक को योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

लाभ पाने के लिए सभी नागरिकों को एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा

इसके बाद, सामाजिक न्याय विभाग ने इस बात पर विशेष ध्यान दिया है कि सभी आवश्यक संसाधनों को जल्द से जल्द उपलब्ध कराया जाए। घर पर वैक्सीन लगवाने के लिए सभी नागरिकों को विस्तृत फॉर्म भरना होगा। इस फॉर्म में व्यक्तियों के बारे में पूरी जानकारी भरी जायेगी जिसमें उनका पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर, आईएमसी जनपद वार्ड नंबर,टीकाकरण केंद्र तक चलने में असमर्थ होने का कारण आदि शामिल हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *