मुख्य बिंदु:

– भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को देशभर के शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग जारी की।

– इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) 2021 की रैंकिंग में भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) इंदौर की रैंकिंग में सुधार हुआ।

– प्रबंधन संस्थानों की सूची में, आईआईएम इंदौर ने छठा स्थान प्राप्त किया।

– इंजीनियरिंग संस्थानों की सूची में आईआईटी इंदौर ने 13वां स्थान प्राप्त किया।

भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को देशभर के शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग जारी कर दी। इस साल भी रैंकिंग में प्रबंधन संस्थानों में देश के आईआईएम आगे रहे। नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआइआरएफ) 2021 की रैंकिंग में भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) इंदौर की रैंकिंग में सुधार हुआ। देश में छठा स्थान प्राप्त करते हुआ, जिसके साथ ही आईआईएम इंदौर एक पायदान उपर पहुंच गया है। 

आईआईटी इंदौर की रैंकिंग में आई गिरावट 

आपको बता दें, भारत में प्रतिवर्ष नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिग फ्रेमवर्क (NIRF) देश की सभी शीर्ष विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और अन्य शैक्षिक संस्थानों को उनके प्रदर्शन के आधार पर रैंकिंग देने का काम करता है। इसमें देशभर के विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों का आकलन शैक्षिक गुणवत्ता के साथ अन्‍य सभी मापदंडों के आधार पर शिक्षा मंत्रालय द्वारा किया जाता है। इन मापदंडों में टीचिंग एंड लर्निंग, रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रैक्टिस, आउटरीच एंड इंक्लुसीवीटी, पर्सेप्शन और ग्रेजुएशन आउटकम शामिल होते हैं। 

जहां, आईआईएम इंदौर ने पिछले साल की अपेक्षा रैंकिंग में बढ़त हासिल की, वहीं आईआईटी इंदौर की रैंकिंग में इस साल गिरावट आई है। देश के प्रौद्योगिकी संस्थानों की रैंकिंग में आइआइटी इंदौर को इस वर्ष 13वां स्थान मिला है जबकि पिछले वर्ष संस्थान की रैंकिंग 10 थी।

इंदौर में  श्री गोविंदराम सेकसरिया प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान संस्थान (एसजीएसआइटीएस) की रैंकिंग में भी इस बार सुधार हुआ है। टॉप 200 प्रौद्योगिकी संस्थानों की सूची में इस संस्थान को 181वां स्थान प्राप्त हुआ।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *