पिछले दो हफ्तों में इंदौर में कोरोना की संख्या में काफी गिरावट आई है। गुरुवार को 129 नए मामले दर्ज किए गए और 229 लोगों के रिकवर होने के साथ, शहर में सक्रिय केस 1,045 रोगियों की गिनती में वापस नियंत्रित हो रही है। इसके अलावा, रिपोर्ट में कहा गया है कि इंदौर डिवीज़न में बुधवार को दो महीने बाद पहली बार 200 से कम मामले दर्ज किए।

मध्य प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट घटकर 0.5% हुआ 

लंबे समय तक चली उथल-पुथल के बाद, मध्य प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट बुधवार को 0.5% हो गया। इसके चलते, राज्य में नए आंकड़ों का ग्राफ और नीचे की ओर गया है, इसके साथ ही उम्मीद है कि आने वाले दिनों में मामलों की संख्या में और कमी आएगी। कथित तौर पर, रोज़ाना आने वाले मामलों में हाल ही में तीन महीने में सबसे कम संख्या दर्ज की गयी है। अब तक, राज्य में 6,325 सक्रिय मामले हैं और हर दिन स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है।

राज्य में इंदौर सबसे अधिक कोरोना से प्रभावित हुआ और शहर में दूसरी लहर चलते नागरिकों को अत्यधिक कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ा। संक्रमित होने वाले लोगों की भारी संख्या और मौतों की बढ़ती संख्या के साथ, शहर पर पिछले दो महीनों के दौरान मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा। आधिकारिक रिकॉर्ड के अनुसार, इंदौर में अब तक 1,52,224 लोग वायरल संक्रमण से प्रभावित हुए हैं और इनमें से 1,364 लोग इस बीमारी के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।

अब, मामले की संख्या कम होने के बाद यह अनुमान लगाया जाता है कि वायरस का तेज़ प्रसार वापस जीवित नहीं होता है। यहां, यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि व्यक्तिगत स्तर पर कोरोना का उपयुक्त व्यवहार इस संक्रमण से निपटने के लिए आवश्यक है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *