इंदौर में कोरोना महामारी की स्थिति सामान्य होते हुए नज़र आ रही है। पिछले तीन दिनों से यहां कोरोना का एक भी नया मरीज़ नहीं मिला है। 17 महीनों में ऐसा पहली बार हुआ है कि लगातार तीन दिनों तक संक्रमितों की संख्या 0 रही हो। रिपोर्ट के अनुसार, जिले में अब सक्रिय मामलों की संख्या 8 रह गई है, जिसमें से सभी मरीज़ एसिम्पटोमैटिक हैं।

इंदौर में सैंपल टेस्टिंग की संख्या भी घटाई गई

अब सैंपल टेस्टिंग की भी संख्या घटी है। कुछ समय पहले रोज औसतन 8 से 10 हजार सैंपल टेस्ट किए जाते थे जो अब औसतन 5 हजार किए जा रहे हैं। पिछले तीन दिनों में कुल 15388 सैंपल टेस्ट किए गए। इसमें सोमवार सहित तीन दिन तक संक्रमितों की संख्या 0 रही।

इंदौर में 55 प्रतिशत लोगों ने लगवाई वैक्सीन की दूसरी डोज़

इंदौर में जहां 100 फीसदी लोगों को टीके की पहली डोज़ लगाई जा चुकी है, वहीं 55 फीसदी लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज़ लग चुकी है। प्रशासन का लक्ष्य जल्द से जल्द 100 फीसदी लोगों को टीके की दूसरी डोज़ लगाना है। ऐसा तभी संभव है जब लोग इसे गंभीरता से लें। रिपोर्ट के अनुसार, 6 लाख से अधिक लोगों पहले डोज़ के बाद समय पर टीके की दूसरी डोज़ नहीं लगवाई है।

 रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में दूसरा डोज का वैक्सीनेशन किया जाएगा। जिला प्रशासन का प्रयास है कि दिसम्बर तक सभी को दूसरा डोज लगाने का लक्ष्य पूरा कर लिया जाए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *