बेहतर कनेक्टिविटी की शुरुआत करते हुए, इंदौर जल्द ही भारत के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे से जुड़ने के लिए तैयार है। कनेक्टिविटी का विस्तार करते हुए, देवास, उज्जैन और गरोठ के बीच एक नया फोर-लेन भारत के अब तक के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे से जोड़ा जा रहा है। दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर इंदौर को गरोठ से जोड़ने के लिए 173 किलोमीटर लंबा खंड बनाया जा रहा है। प्रस्तावित राऊ-देवास बाईपास से इंदौर को भविष्य में आने वाले दिल्ली-मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर से जोड़ा जाएगा।

इंदौर के लोगों को होगी आसानी

गौरतलब है कि 1,350 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेसवे मध्य प्रदेश में 245 किलोमीटर से होकर गुजरेगा। इसमें से 106 किलोमीटर के हिस्से पर अब तक काम शुरू हो चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य में काम का पूरा चरण नवंबर 2022 तक समाप्त होने की संभावना है। एक बार पूरा होने के बाद, यह एक्सप्रेसवे न केवल दिल्ली और मुंबई के बीच यात्रा के समय को 12 घंटे तक कम कर देगा बल्कि मध्य प्रदेश को इन शहरों से भी जोड़ देगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *