जरूरी बातें

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) नाम दिया है।

इस नए वैरिएंट का 30 से अधिक बार हो चुका है म्यूटेशन।

पहली बार दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था कोरोना का यह नया वैरिएंट।

मौजूदा वैक्सीन इस वैरिएंट के खिलाफ कारगर है या नहीं, इसका पता अभी नहीं लग पाया है।

भारत में रैपिड टेस्टिंग पर पूरा जोर देते हुए ख़ास सतर्कता बरती जा रही है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 को ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) नाम दिया है। डब्ल्यूएचओ (WHO) ने  कहा की ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) नाम का यह वैरिएंट एक चिंता का विषय है और यह बेहद तेज़ी से फैलता है। इस वैरिएंट का म्यूटेशन 30 से अधिक बार हो चुका है और दूसरी लहर में डेल्टा और डेल्टा प्लस वैरिएंट इसी तरह म्यूटेट होकर जानलेवा साबित हुए थे। इस नए वैरिएंट की घोषणा बीते गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के वैज्ञानिकों ने की थी जिसके बाद यह और देशों, इज़राइल, बेल्जियम, बोत्सवाना और हांगकांग में पाया गया है।

वर्तमान में मौजूद टीके कारगर हैं या नहीं, इस पर है असमंजस 

डब्ल्यूएचओ ने बताया कि अब तक ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) वैरिएंट के लगभग 100 जीनोम अनुक्रमों (जीनोम सीक्वेंस) की सूचना मिली है। चिंता का विषय यह है कि मौजूदा वैक्सीन इस वैरिएंट के खिलाफ कारगर है या नहीं, इसकी स्टडी की जा रही है और इसमें वक्त लग सकता है। अब तक के वैज्ञानिक विश्लेषण से पता चलता है कि नया संस्करण डेल्टा सहित किसी भी अन्य संस्करण की तुलना में तेजी से फैल रहा है। यह संस्करण तीन में से कम से कम दो मानदंडों पर चिंता का कारण है, जिनका उपयोग यह आकलन करने के लिए किया जाता है कि कोई भी नया संस्करण कितना खतरनाक है। 

भारत सरकार ने राज्यों को नए वैरिएंट के लिए किया सतर्क 

भारत सरकार ने आगामी 15 दिसंबर से नियमित अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवाओं को फिर से शुरू करने की घोषणा करी है। ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) वैरिएंट को मद्देनजर रखते हुए प्रभावित देशों के यात्रियों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग के लिए निर्देश दिए हैं। भारत सरकार आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कोरोना जांच कराएगी। ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) वैरिएंट को लेकर देश में रैपिड रैपिड टेस्टिंग पूरा जोर देते हुए ख़ास सतर्कता बरती जा रही है।

Read More :- उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों और कॉलेजों में खोले जाएंगे कोरोना टीकाकरण केंद्र

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *