ज़रूरी बातें

भारत में ओमीक्रॉन के मामलों की संख्या मंगलवार को 2000 की संख्या को पार कर गई।
देश में मंगलवार को ओमीक्रॉन के 243 मामले दर्ज किए गए।
महाराष्ट्र 653 मामलों के साथ अब तक सबसे ज्यादा प्रभावित ओमीक्रॉन राज्य है।
उसके बाद ओमीक्रॉन के सबसे अधिक मामले नई दिल्ली में हैं।
नयी दिल्ली में ओमीक्रॉन के मामलों की कुल संख्या 464 मामलों पर है।

भारत में ओमाइक्रोन मामलों की संख्या मंगलवार को 2000 की संख्या को पार कर गई, जिसमें पूरे देश में 243 संक्रमण दर्ज किए गए। सटीक आंकड़ों में, लगभग 2,135 कोरोनावायरस रोगी ओमीक्रॉन पॉजिटिव आये हैं, जिसमें सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र के हैं और उसके बाद दिल्ली के एनसीटी का नंबर आता है। रिपोर्ट के अनुसार, अब तक लगभग 882 लोग रिकवर हो चुके हैं।

भारत में ओमीक्रॉन का डर तेज़ी से फैल रहा है

स्वास्थ्य बुलेटिन रिकॉर्ड के अनुसार, महाराष्ट्र 653 मामलों के साथ अब तक सबसे ज्यादा प्रभावित ओमीक्रॉन राज्य है, जो देश भर में कुल ओमीक्रॉन मामलों का सबसे बड़ा हिस्सा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, लगभग 259 लोग सफलतापूर्वक ठीक हो चुके हैं, जबकि अन्य भी लगातार स्वस्थ हो रहे हैं। पिछले 24 घंटों में, महाराष्ट्र में लगभग 85 नए ओमीक्रॉन मामलों का पता चला है, जो पूरे भारत में सबसे अधिक है।

उसके बाद ओमीक्रॉन के सबसे अधिक मामले नई दिल्ली में हैं जहाँ मंगलवार को 82 ताजा ओमाइक्रोन मामले दर्ज किए गए। इसके बाद नई दिल्ली में ओमीक्रॉन मामलों के कुल संख्या 464 मामलों पर है। यह भारत में सिग्नल क्षेत्र से आने वाले ओमीक्रॉन मामलों का दूसरा सबसे बड़ा भार है। अब तक कुल 57 लोग डिस्चार्ज हो गए है।

कुल 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश ओमीक्रॉन संस्करण से संक्रमित हैं, और कर्नाटक 185 ओमाइक्रोन मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है, इसके बाद राजस्थान में 174 ऐसे संक्रमण हैं। इनमें से करीब 88 ठीक हो चुके हैं। गुजरात और तमिलनाडु में अब तक ओमाइक्रोन के क्रमश: 154 और 121 मामले सामने आए हैं।

तेलंगाना में ओमीक्रॉन के 17 और मामले सामने आए हैं, जिससे पिछले 24 घंटों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 84 हो गई है। कर्नाटक में अब तक 77 लोगों में ओमाइक्रोन संक्रमण का पता चला है जबकि हरियाणा में संक्रमितों की संख्या 71 और ओडिशा में 37 है। पिछले 24 घंटों में उत्तर प्रदेश के टैली में 23 नए मामले सामने आए। यहां कुल 31 ऐसे मामले सामने आए हैं। आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में अब तक इस प्रकार के 24 और 20 मामले हैं।

मध्य प्रदेश, गोवा और निम्नलिखित क्षेत्रों में सिंगल अंकों में मामले

मध्य प्रदेश में ओमीक्रॉन मामलों की संख्या सिंगल डिजिट तक सीमित है, जिसमें 9 और उत्तराखंड में 8 मामले हैं। गोवा और मेघालय में प्रत्येक में 5 ओमाइक्रोन मामले सामने आए हैं। चंडीगढ़ और जम्मू कश्मीर में भी 3-3 मामले जारी हैं।

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और पंजाब में अब तक 2-2 मामले सामने आए हैं। हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और मणिपुर में अब तक एक भी मामला सामने आया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *