गोवा के मापुसा में पेड्डेम स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में हॉकी स्टेडियम का नाम महान हॉकी खिलाड़ी और मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखा जाएगा। रविवार को राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर गोवा के मुख्यमंत्री ने इस बात की घोषणा करते हुए कहा कि,”पेड्डेम में हॉकी स्टेडियम, एक बार पूरा हो जाने के बाद, भारत के महान खेल दिग्गज मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखा जाएगा”।

पेड्डेम में हॉकी स्टेडियम राज्य का एकमात्र स्टेडियम है, जिसमें एस्ट्रो टर्फ मैदान की सुविधा दी गई है। 

रिपोर्ट के अनुसार,पेड्डेम में हॉकी स्टेडियम राज्य का एकमात्र स्टेडियम है, जिसमें एस्ट्रो टर्फ मैदान है। इससे पहले, स्थापित किया गया टर्फ दोषपूर्ण और खतरनाक पाया गया था और अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) ने प्रमाणन से इनकार कर दिया था, जिसके बाद मैदान में टर्फ को फिर से तैयार किया गया।

आपको बता दें, एस्ट्रोटर्फ मैदान पूरी तरह समतल होता है। इसमें कृत्रिम घास उगाई जाती है, जो साधारण घास की अपेक्षा अधिक मजबूत होती है। इस घास की मिट्टी के अंदर पकड़ मजबूत होती है, जिससे खेल के दौरान यह उखड़ती नहीं है। यही नहीं, खेल के दौरान मैदान पर गड्ढे हो जाने की समस्या से छुटकारा मिल जाता है।  राष्ट्रीय खेलों के 36वें संस्करण के लिए राज्य में अपनी तरह की पहली सुविधा विकसित की गई है। राज्य सरकार स्टेडियम में ड्रेसिंग रूम तैयार करने की तैयारी में है। इस मैदान को अभी तक खेल प्रेमियों के लिए नहीं खोला गया है।

इस मैदान के बन जाने के बाद, इसका नाम देश के सबसे महान हॉकी खिलाड़ियों में से एक मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखा जाएगा। लगातार तीन ओलंपिक (1928 एम्सटर्डम, 1932 लॉस एंजेलिस और 1936 बर्लिन) में भारत को हॉकी का स्वर्ण पदक दिलाने वाले ध्यानचंद की जयंती पर इस बात की घोषणा की गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *