गोवा ऊर्जा विकास एजेंसी राज्य के दूरदराज के घरों में सोलर पीवी आधारित बिजली की व्यवस्था करने के लिए कर रही काम (जीईडीए) पिछले कुछ समय से राज्य भर में स्वच्छ, सोलर और प्रभावी बिजली की व्यवस्था करने की दिशा में काम कर रही है। इसी सम्बन्ध में जीईडीए और सीईएसएल (कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड) के बीच एक एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किये गए है, जो इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम साबित होगा।

इससे यह पता चलता है कि सीईएसएल अब राज्य के दूर दराज़ के क्षेत्रों के घरों में सोलरपीवी-आधारित होम लाइटिंग सिस्टम की स्थापना करेगा। इस एग्रीमेंट के लागू होने से राज्य के अन्य ऊर्जा विभागों को इसी तरह के बेहतर बिजली सप्लाई के प्रोजेक्ट पर विचार करने के लिए प्रेरित करेगा। 

सीईएसएल का पहला ऑफ-ग्रिड बिजली प्रोजेक्ट  

गोवा एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (जीईडीए) ने एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल), कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड (सीईएसएल) की एक सहायक कंपनी के साथ एक एग्रीमेंट साइन किया है। समझौते के अनुसार, सीईएसएल दूर-दराज के घरों में बेहतर बिजली के सप्लाई के लिए पांच साल की अवधि के लिए सोलर पीवी सिस्टम स्थापित करेगा और उसका रखरखाव करेगा।

गोवा सरकार के रिमोट विलेज इलेक्ट्रिफिकेशन (आरवीई) कार्यक्रम के तहत जीईडीए के सदस्य-सचिव और सीईएसएल के महाप्रबंधक ने इस एग्रीमेंट पर साइन किये हैं। यह प्रोजेक्ट सीईएसएल का पहला ऑफ-ग्रिड बिजली प्रोजेक्ट है, और उनके महाप्रबंधक ने कहा कि कंपनी को इस पहल पर काम करने में गर्व का अनुभव हो रहा है, क्योंकि बिजली सभी घरों के विकास के लिए बुनियादी जरूरत है।

इसके अलावा यह प्रोजेक्ट एनर्जी ट्रांजिशन के मार्ग पर एक महत्वपूर्ण कदम है, और अन्य राज्य ऊर्जा विभागों को भी यह पहल करने के लिए प्रेरित करेगा। कथित तौर पर, GEDA के अनुसार, यह सोलर लाइटनिंग प्लेटफॉर्म गोवा को एक ग्रीन एनर्जी वाला राज्य बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, एक ऐसा प्रयास जो लोगों और पर्यावरण दोनों के लाभ के लिए कार्य करेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *