गोवा राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राज्य मंत्री ने वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से ओल्ड गोवा में दूसरा फ्लोटिंग जेट्टी लॉन्च किया। नौका और क्रूज सुविधाओं की पेशकश करते हुए, जेट्टी पुराने गोवा और पंजिम के बीच मंडोवी नदी के माध्यम से जोड़ने का कार्य करेगी। उम्मीद है कि यात्री तटीय राज्य के दो महत्वपूर्ण स्थानों के बीच आसानी से यात्रा कर सकेंगे।

फ्लोटिंग जेटी से गोवा के पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र सरकार ने मंडोवी नदी पर राष्ट्रीय जलमार्ग 68 पर दो कंक्रीट फ्लोटिंग जेटी बनाने के लिए अपनी मंजूरी दे दी थी। इस निमार्ण कार्य की योजना पुराने गोवा और पंजिम को जोड़ने के उद्देश्य से बनाई गई थी। जहां कैप्टन ऑफ पोर्ट्स, पंजिम में स्थित पहले जेट्टी का परिचालन 21 फरवरी, 2020 को शुरू किया गया था, राज्य को अब पुराने गोवा में यह अपनी तरह की दूसरी सुविधा है।

न केवल कंक्रीट फ्लोटिंग जेट्टी की लागत फिक्स्ड जेट्टी से लगभग 20 प्रतिशत कम है, बल्कि यह निर्माण और स्थापित करने में भी तेज हैं और साथ ही उपयोग में भी काफी आसान है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस संरचना को 50 सालों तक सीआरजेड मंजूरी की आवश्यकता नहीं है।

रिपोर्ट के अनुसार, मंत्री ने कहा कि मुर्मुगांव बंदरगाह राज्य की प्रगति के लिए अत्यधिक फायदेमंद रहा है। उन्होंने आगे बताया कि ऐसी उम्मीद की जा रही है कि फ्लोटिंग जेट्टी राज्य के पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देगी। कथित तौर पर, उन्होंने पर्यटन क्षेत्र को राज्य का विकास इंजन बनाने में गोवा सरकार द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की है। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *