राज्य में मौत की घटनाओं को देखते हुए गोवा प्रशासन ने कोविड रोगियों के लिए नई स्टैण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रक्रियाएं शुरू की हैं। नए प्रोटोकॉल के अनुसार, संक्रमित व्यक्तियों को जिन्हें बाहरी ऑक्सीजन सहायता की आवश्यकता नहीं होती है, उन्हें भी डॉक्टरों की देख रेख में अस्पतालों में भर्ती कराया जाएगा। मंगलवार को गोवा में 2,814 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हुए और घातक वायरस के कारण 52 लोगों की जान चली गई।

कम गंभीर रूप से बीमार रोगियों की देखभाल और निगरानी के लिए स्टेप-अप सुविधाएं।



मंगलवार को टॉप स्वास्थ्य अधिकारियों के बीच विचार-विमर्श के बाद, नए दिशानिर्देश प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों में बहुत जल्द ही लागू होंगे। "जिन रोगियों को ऑक्सीजन की आवश्यकता नहीं है, उन्हें अस्पताल में रखा जा सकता है और ट्रीटमेंट दिया जा सकता है। चिकालिम और कान्सौलिम में दो स्टेप-अप सुविधाओं के अस्पताल 5 मई तक चालू होंगे और मुख्यमंत्री ने बुधवार को कहा,की ऐसे अस्पताल पेरनेम, बिचोलिम, वालपोई, कॅनॅकॉन और कुरचोरेम सभी जगह स्थापित किये जा सकते हैं।

रिकॉर्ड के अनुसार, पिछले 4 दिनों में 204 लोगों की जान चली गई है और इस खतरनाक गिनती के प्रमुख कारणों में से एक रोगियों का देर से अस्पताल में भर्ती होना है। इस अंतराल से बचने और आवश्यक मेडिकल सहायता देने के लिए, रोगियों को अस्पतालों में नियमित निगरानी में रखा जाएगा। सबसे बड़ी 'स्टेप-अप' सुविधा डॉ शमा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में स्थापित की जाएगी, जिसे पहले कोविड केयर केंद्र के रूप में नामित किया गया था।

डिप्टी कलेक्टरों ने स्टेप-उप फैसिलिटीज के कामकाज का निरीक्षण और आकलन किया।



मुख्यमंत्री ने कहा, "संबंधित सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के डॉक्टर ऐसे अस्पतालों को संचालित करने के लिए एक साथ आएंगे। कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर ऐसे अस्पतालों की स्थापना के लिए लोजिस्टिक्स की व्यवस्था करेंगे और मरीजों के परिवहन के लिए एम्बुलेंस या स्कूल बसों की भी सुविधा सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि घर में रहने वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य की नियमित रूप से देखरेख की जानी चाहिए और उनकी स्थिति बिगड़ने पर उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती किया जाना चाहिए।

1,00,902 कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों और अब तक दर्ज की गई 1,372 मौतों की संख्या के साथ, गोवा दूसरी कोविड लहर के गंभीर प्रभावों के बीच दबा हुआ है। वर्तमान में, सक्रिय रोगियों की संख्या 26,731 है, जबकि पिछले 4 दिनों में 5,860 रिकवर हो गए थे।