राज्य में व्यापक टीकाकरण अभियान चलाने के उद्देश्य से गोवा सरकार ने 13 जून से टीका उत्सव 3.0 शुरू करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को हर्ड इम्युनिटी के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए टीकाकरण की आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए निर्णय की घोषणा की। क्षेत्र के सभी नागरिकों के लिए 100% पहली खुराक टीकाकरण सुनिश्चित करने के उद्देश्य से कार्यक्रम को सुव्यवस्थित प्रयासों द्वारा संचालित किया जाएगा।

पंचायत व नगर निगम स्तर पर बनाए जाएंगे टीकाकरण केंद्र


व्यापक टीकाकरण में तेजी लाने के लिए, मुख्यमंत्री ने पुष्टि की कि प्रत्येक पंचायत और नगरपालिका क्षेत्र में टीकाकरण स्थल स्थापित किए जाएंगे। इसके अलावा, उन्होंने टिप्पणी की कि इस कार्यक्रम का उद्देशय इन केंद्रों में से प्रत्येक पर प्रतिदिन करीब 250 नागरिकों का टीकाकरण करना होगा। परियोजना के पैमाने और दायरे को देखते हुए, यह कहा जा सकता है कि यदि अभियान सफलतापूर्वक पूरा हो जाता है तो राज्य की आबादी के एक बड़े हिस्से का टीकाकरण किया जाएगा।

पिछले दिनों गोवा में, 45 वर्ष आयु से ऊपर के नागरिकों में टीका लगवाने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। इसके अतिरिक्त, चक्रवात तौकते और दूसरी कोविड लहर ने भी टीकाकरण प्रक्रिया को प्रभावित किया था। गोवा के मुख्यमंत्री ने कहा, "45 साल से ऊपर के 75 प्रतिशत लोगों को टीका लगाया गया है। 30 प्रतिशत लोगों ने अभी तक अपनी पहली खुराक नहीं ली है।"

गोवा में शनिवार को 423 नए मामले दर्ज किए गए और 819 लोग ठीक हुए


देश में सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में से एक होने के कारण, गोवा को महामारी की दूसरी लहर के दौरान मुश्किलों का सामना करना पड़ा। अब, मामले की संख्या में कमी आई है, शुक्रवार को 413 नए संक्रमण के मामले मिले और 819 लोग रिकवर हुए। जहां एक ही दिन में 8 लोगों की जान चली गई, राज्य में अब तक कुल 2,899 मौतें दर्ज की गई हैं।