गोवा सरकार ने मंगलवार को ग्राम पंचायतों और जिलों में अतिरिक्त कोविड-19 प्रतिबंध लगाए ताकि कोरोनो वायरस संक्रमण पर अंकुश लगाया जा सके। गोवा में 4-दिवसीय लॉकडाउन लगाया गया था, जो 3 मई को समाप्त हुआ, हालांकि यहां एक और सप्ताह के लिए 10 मई तक सख्त प्रतिबंध लगाए गए थे। प्रशासन ने पहले दिशानिर्देशों को जारी किया था लेकिन मंगलवार को गैर-आवश्यक सेवाओं को शामिल करने के लिए, प्रतिबंधो को दायरा बढ़ा दिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, अब रेस्टोरेंट्स को भी केवल होम डिलीवरी के लिए अनुमति दी गई है, जबकि पहले इसे 50% की क्षमता के साथ चलाने की अनुमति दी गई थी।

कोविड-19 अस्थायी प्रतिबंधों का अवलोकन


गोवा में कोविड-19 के मामलों में खतरनाक वृद्धि के मद्देनजर, राज्य सरकार ने गैर-आवश्यक सेवाओं और रेस्तरां संचालन को अपने दायरे में शामिल करने के लिए यहां प्रतिबंधात्मक दिशानिर्देशों को संशोधित करने का निर्णय लिया है। कथित तौर पर, राज्य के कुछ क्षेत्र स्वैच्छिक लॉकडाउन (voluntary lockdown) का अनुसरण कर रहे थे और भ्रम की गुंजाइश को खत्म करने के लिए, राज्य ने अतिरिक्त प्रतिबंधों को शामिल करने के लिए अपने पहले के आदेशों में संशोधन किया, जो कि राज्य भर में प्रभावी होंगे। साथ ही, सीएम ने सभी पंचायतों को स्वैच्छिक लॉकडाउन की आड़ में किसी भी आवश्यक सेवाओं को बंद नहीं करने की सख्त चेतावनी दी है।

हालांकि यहां विभिन्न प्रतिष्ठान बंद हो गए हैं, लेकिन आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। पर्यटकों से जुड़ी गतिविधियां, कैसिनो, खेल परिसर, सभागार, सामुदायिक हॉल पूरी तरह से बंद रहेंगे। रिवर क्रूज़, वॉटर पार्क, एंटरटेनमेंट पार्क, जिम, स्पा, मसाज पार्लर और सैलून भी इस सूची में शामिल हैं। आदेश के अनुसार सभी धार्मिक प्रतिष्ठान जनता के लिए भी बंद रहेंगे। सभी शिक्षा संस्थान, स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे, हालांकि परीक्षाएं कार्यक्रम के अनुसार जारी रहेंगी।