महामारी के खिलाफ गोवा के सुरला गांव ने एक उल्लेखनीय जीत हासिल की है। गाँव के सभी नागरिकों को टीका लगाया गया है। कथित तौर पर, एक स्वास्थ्य अधिकारी ने सोमवार को बताया कि सत्तारी तालुका में स्थित सुरला 100% टीकाकरण दर्ज करने वाला गोवा का पहला गांव बन गया है। रिकॉर्ड के अनुसार, राज्य की कुल आबादी के 50.7% को टीके की पहला खुराक दे दी गयी है।

ऑफलाइन टीकाकरण ने गांव में चलाया अभियान



विशेष रूप से, वालपोई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधिकारियों ने गांव में टीकाकरण कार्यक्रम का शत-प्रतिशत कवरेज सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र के इंचार्ज ने अवगत कराया कि उनकी टीम ने गाँव के हर घर का दौरा किया, ताकि यह ध्यान दिया जा सके कि प्रत्येक व्यक्ति को टीकाकरण अभियान के लाभ मिल सकें। अधिकारियों की टीम ने पहाड़ी की चोटी पर स्थित घरों का सर्वेक्षण करते हुए रविवार को उन नागरिकों को कैंप में शामिल होने को कहा जिन्होंने अभी टीका नहीं लगवाया है।

उल्लेखनीय है कि सुरला वालपोई से 50 किमी की दूरी पर स्थित है और गोवा की राजधानी पंजिम से 76 किमी दूर है। कथित तौर पर, स्वास्थ्य केंद्र के इंचार्ज ने कहा कि सुरला में इंटरनेट सुविधाओं की उपलब्धता न होने के कारण, Cowin प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के लिए एक बाधा बन गई। जिससे राज्य में ऑफलाइन ड्राइव के माध्यम से वर्तमान सफलता प्राप्त हुई है।

रविवार को 200 से अधिक नागरिकों का टीकाकरण




रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को 200 से अधिक लोगों को टीका लगाया गया था, जबकि कुछ अन्य लोगों को टीका उत्सव अभियानों के दौरान पहले ही टीका लग गया था। अब टीकाकरण की नज़र से गांव पूरी तरह से वायरस से सुरक्षित है। इसके बावजूद, अनिश्चितताओं और नए म्युटेंट के उभरने को देखते हुए कोरोना उपयुक्त व्यवहार समय की आवश्यकता है