भारत में इस समय कोरोना पॉजिटिव मामलो में गोवा सबसे ऊपर है। राज्य में कोरोना महामारी को देखते हुए राज्य सरकार ने 18 वर्ष से ऊपर के सभी आयु के लोगों को इवरमेक्टिन दवा की पांच गोलियां लेने की सलाह दी है। सरकार का मानना है कि इससे राज्य में कोविड-19 संक्रमण और इससे फैले घातक वायरल बुखार को रोकने में मदद मिलेगी।


स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने बताया कि राज्य के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में इवरमेक्टिन दवा उपलब्ध कराई जाएगी और 18 साल से ऊपर राज्य के हर निवासी को दी जाएगी चाहे उनमें कोविड के लक्षण हों या न हो। स्वास्थ्य मंत्री नें आगे बताते हुए कहा, ' हम इवरमेक्टिन दवा जनता को रोगनिरोधी उपचार के रूप में दे रहें हैं। स्वास्थ्य मंत्री नें कहा, यह दवा राज्य के हर एक नागरिक को लेने की जरूरत है। यह मरीजों को 5 दिनों की अवधि के लिए इवरमेक्टिन-12 के साथ इलाज किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने इस बात को भी कहा की यह दवा शरीर में संक्रमण को काबू में रखती है, इससे यह बिलकुल भी नहीं मान लेना चाहिए की संक्रमण का खतरा कम हो जाएगा या किसी को संक्रमण होगा ही नहीं। हमें संक्रमण से बचने के लिए विशेष एहतियात बरतने की सख्त जरूरत है।

गोवा में लगाया गया 15 दिन का कोरोना कर्फ्यू, जानें क्या खुला रहेगा और क्या बंद

गोवा में बढ़ते कोरोना वायरस के कोहराम को देखते हुए राज्य सरकार ने वहां 15 दिन का कर्फ्यू लगाने का एलान कर दिया है।

खुला रहेगा - मेडिकल की दुकानें, ग्रॉसरी शॉप, स्टैंडअलोन शराब की दुकानें, अस्पताल और मेडिकल सुविधाएं, बैंक, इंश्योरेंस, कस्टम क्लीयरेंस, एटीएम, खुलने का समय सुबह सात बजे से दोपहर एक बजे तक.

बंद रहेगा - कसीनो, बार, रेस्त्रां, स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, ऑडिटोरियम, कम्यूनिटी हॉल, क्रूज, वाटरपार्क, जिम, पार्लर, सैलून, सिनेमा हॉल, थिएटरस्वीमिंग पूल, स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक संस्थान, धार्मिक स्थान और बाजार.