उच्च न्यायालय ने सोमवार को गोवा सरकार की उस याचिका को स्वीकार कर लिया, जिसके अनुसार टीके की दोनों डोज़ प्राप्त करने वाले पर्यटकों और यात्रियों को बिना किसी नेगेटिव कोविड रिपोर्ट के राज्य में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। अब तक, यह प्रावधान आगंतुकों के लिए उपलब्ध नहीं था, जिन्हें पूर्ण टीकाकरण करवाने के बावजूद एक नेगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करनी पड़ती थी।

गोवा आने वाले आगंतुकों के लिए नए मानदंड


इससे पहले जुलाई के बीच में, उच्च न्यायालय ने पर्यटकों को छोड़कर, यात्रियों को एक नकारात्मक कोविड रिपोर्ट के बिना राज्य में प्रवेश करने की अनुमति दी थी, अगर उन्हें टीके की दोनों डोज़ लग चुकी है। हालांकि, सोमवार को कोर्ट ने पर्यटकों के लिए भी इस प्रावधान का दायरा बढ़ाने के अपने आदेश में संशोधन किया।

फैसले के अनुसार, कम से कम 14 दिन पहले दूसरी डोज़ प्राप्त करने वाले सभी आगंतुक बिना नकारात्मक कोविड आरटी-पीसीआर प्रमाणपत्र या रैपिड एंटीजन परीक्षण रिपोर्ट के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं

यह ध्यान दिया जा सकता है कि नेगेटिव रिपोर्ट मानदंड अभी भी 2 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए लागू रहेगा। 2 साल से कम उम्र के बच्चे किसी भी परीक्षण या रिपोर्ट की आवश्यक्ता नहीं है।