कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने गोवा में अत्यंत भयावह स्थिति उत्पन्न कर दी है। हाई पॉजिटिविटी रेट के साथ गोवा के कोरोना आकड़ें हर दूसरे दिन रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। सोमवार को 2,804 नए कोरोना मामलों के साथ सक्रीय मामलों की संख्या 32,262 तक बढ़ गयी और 50 लोगों की घातक वायरस के कारण उसी दिन जान चली गयी। पिछले 10 दिनों में 30,000 नागरिक कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और इसी अवधि में 561 की जान चली गयी।

नए संक्रमणों की बढ़ती हुई गणना के बीच धीरे-धीरे रिकवरियां बढ़ रही हैं


पिछले सप्ताहों में अनियंत्रित कोरोना मामलों में वृद्धि होने के बाद अब रिकवर होने वाले लोगों की संख्या बढ़ने लगी है। सोमवार को 2,367 मरीज़ रिकवर हो गए और यह गिनती पिछले तीन दिनों से लगातार बढ़ी है। इसके अलावा यह अनुमान है की सक्रीय मामले तभी नियंत्रित किये जा सकते हैं जब रिकवरी का ग्राफ ऊपर जाए और साथ में नए मामलों का ग्राफ नीचे की ओर जाए। वर्तमान स्थिति को देखते हुए नागरिकों के हित के लिए राज्य सरकार निरंतर नयी कोशिशें कर रही हैं।

राज्य सरकार 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए प्रोफिलैक्सिस ट्रीटमेंट की सलाह दे रही है

संक्रमण की दर को कम करने के लिए राज्य सरकार ने सभी 18 वर्ष से अधिक की आयु के लोगों को बचाव के तौर पर प्रोफिलैक्सिस ट्रीटमेंट की सलाह दे रही है। इसके एक भाग के रूप में, आइवरमेक्टिन 12 mg को 5 दिनों की अवधि के लिए 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों को खाने की सलाह दी गयी है। इस निर्देश के ठीक तरह से पालन के लिए राज्य के अधिकारियों ने यह आदेश दिया है कि दवा सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों और अस्पतालों में उपलब्ध होनी चाहिए।