देश के विभिन्न हिस्सों में चल रहे कोरोना टीकाकरण अभियान के साथ अब गोवा में भी 18 से 45 वर्ष की उम्र के लोगों के लिए शनिवार से टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है। इस संबंध में जरूरी निर्देश जारी करते हुए मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा की राज्य के सभी 35 केंद्रों में नागरिकों को निःशुल्क कोरोना का टीका लगेगा। अभी तक गोवा में 4,09,697 लोगों का टीकाकरण हो चूका है और यह अनुमान है की यह गिनती आने वाले समय में बढ़ेगी।

घातक कोरोना संक्रमण के खिलाफ राज्य की पहल

कथित तौर पर राज्य सरकार को सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ़ इण्डिया ( Serum Institute of India) से 32,000 वैक्सीन के शॉट प्राप्त हुए हैं। हालांकि ये शॉट इस टीकाकरण अभियान में काम आएंगे और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को भी कोरोना का टीका लगता रहेगा। इस बात को ध्यान में रखते हुए अधिकारी विभिन्न आयु वाले नागरिकों का सुचारु रूप से टीकाकरण करने के लिए उचित योजनाएं बना रहे हैं।

टीकाकरण के विस्तारित दायरे के निर्णय को सांझा करते हुए सीएम ने सभी नागरिकों से अनुरोध किया की वे CoWIN पोर्टल पर अपने स्लॉट बुक कर लें। उन्होंने आगे ट्वीट किया "आइए राज्य में कोरोना वायरस के खतरे को हराने के लिए हम सब मिलकर काम करें।" रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने 5 लाख खुराक देने का आदेश दिया था लेकिन अब तक इसका कुछ ही हिस्सा प्राप्त हुआ है।

वैक्सीन की उपलब्धिता न होने के कारण 1 मई को देश भर में शुरू होने वाले 18 से 45 वर्ष के लोगों का टीकाकरण अभियान गोवा में शुरू नहीं हो पाया था। हालांकि, यह उल्लेखनीय है कि निजी तौर पर खरीदी गयी कोवैक्सिन के माध्यम से दो प्राइवेट चिकित्सा संस्थाएं इस आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण कर रही थीं।

बढ़ते कोरोना मामले के चलते विस्तारित टीकाकरण की आवश्यकता है


गुरूवार को 2,491 नए कोरोना मामलों के साथ गोवा में सक्रीय मामलों की संख्या 32,953 तक बढ़ गयी है। हालांकि 2,226 लोग उसी दिन रिकवर हो गए लेकिन वायरस से होने वाली मौतों की संख्या 63 से बढ़ गयी। ऐसे आंकड़ों को देखते हुए विस्तारित टीकाकरण अभियान इस समय की आवश्यकता हैं। राज्य की 15 लाख से अधिक नागरिकों की कुल जनसंख्या में से 2 लाख से अधिक लोगों को पहली डोज़ लग गयी है और करीब 90,000 लोगों का टीकाकरण पूरा हो चूका है।