गोवा की तटरेखा के आकर्षण को बढ़ाते हुए हाल ही में गोवा के मुख्यमंत्री द्वारा ‘मीरामार बीचफ़्रंट  का सौंदर्यीकरण’ का उद्घाटन किया गया। मीरामार बीचफ्रंट को इमेजिन पणजी स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट लिमिटेड (IPSDL) द्वारा लगभग ₹12 करोड़ के बजट में पुनर्निर्मित किया गया है। कायाकल्प और शहरी परिवर्तन के लिए अटल मिशन (AMRUT) के दायरे में, यह परियोजना स्थानीय लोगों और पर्यटकों को समान रूप से विभिन्न सुविधाएं प्रदान करती है।

गोवा में कई अन्य समुद्र तटों पर भी सौंदर्यीकरण परियोजना की जाएगी

12,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में फैले इस स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट ने न केवल मीरामार समुद्र तट की सुंदरता को बढ़ाया है, बल्कि यहाँ सार्वजनिक सुविधाओं के ज़रिये पर्यटकों को आकर्षित करने की भी उम्मीद है। इन सुविधाओं में बच्चों के खेलने का क्षेत्र, पैदल चलने के लिए ट्रैक, सार्वजनिक व्यायामशाला, प्रतिष्ठित पेर्गोला, मछली के प्रतिष्ठान और बैठने के अलावा अन्य शामिल हैं। इसके अलावा, पर्यावरण को संरक्षित करने के विचार के अनुरूप, इस परियोजना के लिए कोई पेड़ नहीं काटे गए।

इस पहल को कोस्टल रेगुलेशन ज़ोन के नियमों के अनुसार पूरा किया गया था। विशेष रूप से, मीरामार के चार चरणों के विकास का पहला भाग 2020 में जनता के लिए खोला गया था। समुद्र तट सौंदर्यीकरण के अपने मिशन के साथ आगे बढ़ते हुए, राज्य सरकार का लक्ष्य अब मीरामार समुद्र तट की तर्ज पर गोवा के अन्य समुद्र तटों को भी विकसित करना है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *