गोवा में कोविड-19 प्रबंधन की क्षमता को बढ़ाने के लिए, राज्य सरकार ने गुरुवार को पूरे क्षेत्र में होम आईसोलेशन वाले मरीजों की स्थिति की निगरानी के लिए IVR (इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस) प्रणाली की तकनीक को अपनाने का फैसला किया। राज्य के स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि यह ऑटोमैटिक सिस्टम, तटीय राज्य में तेजी से बढ़ रहे रोगियों की संख्या पर नज़र रखने में मदद करेगा। उन्होंने बताया कि इस नए सिस्टम को स्थापित करने का काम एक निजी एजेंसी को सौंपा है।

गोवा में ऑटोमैटिक सिस्टम से ट्रैक किए जाएंगे कोविड मरीज़


राज्य सरकार ने राज्य भर में होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अपनी कोविड निगरानी प्रणाली को बेहतर बनाने की दिशा में यह कदम उठाया है। अब तक प्रशासन प्रत्येक मरीज से व्यक्तिगत रूप से संपर्क करने और उनके स्वास्थ्य की स्थिति पर नज़र रखने के लिए वॉर रूम पर निर्भर था, सक्रिय मामलों की बढ़ती संख्या को बीच यह कार्य चुनौतिपूर्ण था।

राज्य के स्वास्थ्य सचिव ने कहा, "हमारे पास अब तक लगभग 18,500 लोग होम आइसोलेशन में हैं। हाल ही में जब होम आइसोलेशन के मामले बढ़े, तो हर किसी को कॉल करना और उनकी स्थिति को जितनी बार चाहें ट्रैक करना मुश्किल हो रहा था। इसलिए सरकार ने होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को नियमित रूप से ट्रैक करने के लिए इस आईवीआर सिस्टम को इस्तेमाल करने का निर्णय लिया।"

आईवीआर प्रणाली स्थापित करने के लिए सरकार द्वारा निजी एजेंसी 'स्टेप 1' का चयन किया गया है। यह संस्था करीब 11 राज्यों को चैरिटेबल आधार पर भी यह सेवा मुहैया करा रही है। अधिकारी ने बताया, "सरकार को एकमात्र कॉल का शुल्क देना होगा, जो सीधे बीएसएनएल को भुगतान किया जाएगा।"

आवीआर सिस्टम तीन भाषाओं में बनाए जाएंगे

होम आइसोलेशन वाले कोविड-19 रोगियों को संक्रमित होने के दूसरे से दसवें दिन तक IVR से कॉल प्राप्त होंगे। यह 24 घंटे के अंतराल में 3 बार से अधिक ऑक्सीजन रक्त संतृप्ति (oxygen blood saturation), तापमान और सीने में दर्द, सांस फूलना या सर्दी और खांसी जैसे अन्य लक्षणों से संबंधित पांच प्रश्नों के एक सेट द्वारा रोगियों की जांच करेगा।

सचिव ने बताया, "चूंकि सभी अंग्रेजी नहीं जानते होंगे, इसलिए हम इस बात को सुनिश्चित कर रहे हैं कि कॉल तीन भाषाओं- अंग्रेजी हिंदी या कोंकणी में की जाएंगी।" इसका मकसद यह सुनिश्चित करना है कि जिन मरीजों की सेहत ठीक नही है, उनकी हालत और खराब न हो। उनके बयान के मुताबिक शनिवार को इस सेवा की शुरुआत की जाएगी।