आईएमडी ने अगले 24 घंटों के लिए गोवा और कोंकण तट पर भारी वर्षा की संभावना की ओर इशारा किया है। रिपोर्ट के अनुसार, मानसूनी हवाएं मंगलवार को तटीय राज्य को 204.4 मिमी तक की भारी बारिश में भिगो देंगी। मौसम वभाग के अनुमान के अनुसार,ये स्थितियां यहां शुक्रवार तक बनी रहेंगी, जहां कहीं-कहीं भयंकर बारिश की उम्मीद की जा सकती है।

गोवा में सोमवार को भारी बारिश देखी गई


दक्षिण-पश्चिम मानसूनी हवाओं ने गोवा को तेज़ी से प्रभावित किया है, जिससे सोमवार को राज्य के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश हुई है। पूरे दिन पुराने गोवा और पेरनेम की सबसे उत्तरी तालुका में 30-40 किमी प्रति घंटे की तेज हवाएं चलीं और बौछारें पड़ीं। इन क्षेत्रों में भी पिछले 24 घंटों में हलकी बारिश देखी गयी।

भारी बारिश के अलावा व्यापारियों को भी यहां वाटरलॉगिंग की समस्या का सामना करना पड़ा। पंजिम के कुछ हिस्सों में भी सोमवार को ट्रैफिक डायवर्जन देखा गया। सोमवार को रात 8:30 बजे तक पुराने गोवा में 113.5 मिमी, पंजिम में 98 मिमी और पेरनेर्म में 97 मिमी तक बारिश दर्ज की गई। यहां दिन भर, मंगलवार को भी भारी बारिश जारी रहेगी।

दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर की ओर तेज़ी और तीव्रता से बढ़ रहा है


मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, इन क्षेत्रों में से कम दबाव वाले एरिया होने के कारण मानसूनी बारिश की दो शाखाएं उत्तर की ओर बढ़ रही हैं। ये ट्रफ न केवल हवाओं की गति को बढ़ा रहे हैं बल्कि अपनी तीव्रता भी बढ़ा रहे हैं। आईएमडी का विश्लेषण आगे बताता है कि एक ऑफ शोर ट्रफ पश्चिमी तट से दूर जा रही है, जिससे गर्म और उमस वाली दक्षिण-पश्चिमी हवाएं कोंकण और मालाबार कोटों पर चलेंगी। ये दबाव वाले ग्रेडिएंट मिलकर अगले 48 घंटों के लिए गोवा के कोस्ट पर बारिश की संभावनाओं को बढ़ा रहे हैं और इसके साथ ही में यूपी और बिहार के कई हिस्सों में बारिश होने की संभावनाएं हैं।