सर्दियों में खिलखिलाती धूप और रसोई के घरों से आती लज़ीज़ व्यंजनों की खुशबु इस मौसम को और भी अधिक लुभावना बनाती है। रज़ाई में बैठकर मां के हांथों से बने स्वादिष्ट खाने का स्वाद हमारे जीवन में खूबसूरत यादें बुनने का काम करता है। इन लाजवाब व्यंजनों को खाते हुए परिवार के साथ बिताए गए अनमोल पल सर्दियों को और भी खास बना देते हैं।

गाजर का हलवा

गाजर का हलवे का इंतज़ार हर कोई पूरे साल बेसब्री से करता है। इसकी मिठास और लाजवाब स्वाद  से पूरे परिवार के चहरे खिल उठते हैं। इसे बनाने के लिए धीमी आंच पर दूध में गाजर को पकाया जाता है और फिर इसमें घी, चीनी, खोया और सूखे मेवे मिलाए जाते हैं।

तिल के लड्डू

तिल के लड्डू न केवल खाने में बेहतरीन होते हैं बल्कि सर्दियों में सेहत के लिए भी काफी लाभदायक होते हैं। तिल को कई वर्षों से हमारे स्वास्थ्य के लिए पौष्टिक माना गया है, घर में गुड़ के साथ बनाए जाने वाले यह लड्डू आपका स्वाद बढ़ाने के साथ, स्वास्थ्य का भी ख्याल रखते हैं। इसके अलावा, कई घरों में चिक्की या मूंगफली पट्टी भी बनाई जाती है।

मटर निमोना

मटर और सर्दियों का एक खास रिश्ता है। सर्दियों की धूप में मम्मी के साथ बैठकर मटर छीलना और उसे बीच में खाने के लिए डांट सुनना हम सभी की बचपन की यादों का हिस्सा है। ठंड में मटर से बनने वाले कई व्यंजनों में से मटर निमोना एक प्रचलित सब्ज़ी है, जिसे रोटी या चावल के साथ परोसा जाता है। मटर का उपयोग और कई सारे व्यंजनों में किया जाता है।

सरसों का साग और मक्के की रोटी

सर्दियों के मौसम की बात हो रही हो और मक्के की रोटी और सरसों के साग का ज़िक्र न हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता। मां के हाथों से बने साग और रोटी में आप उनके प्यार को चख सकते हो। धीमी आंच पर सेंकी गई मक्के की रोटी, और प्यार से पकाया गया साग, ठंड के दिनों में अपनेपन की गरमाहट देने का काम करता है।

गोभी के पराठे

पराठे भारतीय पाक संस्कृति का अभिन्न हिस्सा है, सुबह-सुबह जब तक किचन में से देसी घी के पराठे की खुशबु न आए, सुबह कुछ अधूरी सी लगती है। वैसे तो पराठे पूरे साल ही चाव से बनाए और खाए जाते हैं, लेकिन सर्दियों में बनने वाले गोभी के पराठे और भी अधिक खास होता हैं। ठंड में मिलने वाली ताज़ी गोभी, पराठों के ज़ायके को बढ़ा देती है, इसलिए इन्हें इस मौसम में खाने का मज़ा ही कुछ और होता है।

 पालक और बथुए का रायता

गरमा-गरम खाने के साथ परोसा गया दही का रायता, थाली में परोसे गई खाने की शोभा बढ़ा देता है। रायता स्वाद के साथ आपकी सेहत का भी ख्याल रखता है। सर्दियों में रायता बनाने के लिए पालक और बथुए का प्रयोग किया जाता है, जो इसे अधिक स्वास्थ्यवर्धक बना देता है। हरी सब्ज़ियां खाने का यह एक बहुत आसान और स्वादिष्ट तरीका है।

मकरसंक्रांति पर बनने वाली खिचड़ी

वैसे तो खिचड़ी का आनंद हम लोग पूरे साल ही लेते हैं, लेकिन इस बात को कोई नहीं नकार सकता कि मकरसंक्रांति के त्योहार पर बनने वाली खिचड़ी की बात ही कुछ और होती है! ताज़ी सब्ज़ियों, चावल और मूंगदाल से बनने वाली खिचड़ी का स्वाद काफी बेहतरीन होता है।

नॉक-नॉक

भारतीय पाक संस्कृति अनगिनत व्यंजनों के स्वाद से सुसज्जित है, हमने यहां उनमें से कुछ ही उदाहरण पेश किए हैं।  ठंड के मौसम में गरमा-गरम खाना बेहद सुखद अनुभव होता है और हम आपसे निश्चित रूप से ऐसे ही अन्य व्यंजनों के बारे में जानना चाहेंगे। इसलिए हमें कॉमेंट्स में सर्दियों में आपके घरों में बनने वाले व्यंजनों के बारे में ज़रूर बताएं।

 

 

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *